मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे … Mangni Ma Mange Maya Nai Mile Re

मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा

फंदा रे फंदा मया के
हा~आ हा~आ हा~आ
मया के फंदा, मया के फंदा
दिखे मा लोभ लाये पाये मा फंदा रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा

नजर मिला के खेलो रे
हा~आ हा~आ हा~आ
खेलो रे पासा, खेलो रे पासा
चोला मगन ता छुपाये के आशा मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा

पाये मा माटी गवांये मा
हा~आ हा~आ हा~आ
गवांये मा हीरा, गवांये मा हीरा
छिन भर के मया अउ छिन भर के पीरा रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा

मया के आंचल काजर के
हा~आ हा~आ हा~आ
काजर के कोठी, काजर के कोठी
कतको लुकाबे तभो दाग होही रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा

मया बर पिया अउ पिया बर
हा~आ हा~आ हा~आ
पिया बर मया, पिया बर मया
नई लागे कोनों ला कोनों बर दया रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा
मंगनी मा माँगे मया नई मिले रे मंगनी मा

 

कविता वासनिक
कविता वासनिक (हिरकने)


गायन शैली : ?
गीतकार : लक्ष्मण मस्तुरिया
रचना के वर्ष : 1982
संगीतकार : खुमान गिरजा
गायिका : अनुराग ठाकुर, कविता वासनिक (हिरकने)
संस्‍था/लोककला मंच : ?

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

32 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. Shankar Lal Sahu
    फरवरी 21, 2011 @ 16:58:40

    bahut aachha geet asene geet mola mel karhoo.

    प्रतिक्रिया

  2. Daya lal Nishad
    मार्च 15, 2011 @ 14:27:03

    This song is very nice and very happy for this collection is available on our mobile.

    प्रतिक्रिया

  3. Hitendra
    मार्च 15, 2011 @ 16:44:29

    बचपन इस गीत को सुनाकर गुजरा है| बहुत बहुत धन्यवाद !!

    -हितेंद्र

    प्रतिक्रिया

  4. chandraprakash lahari
    मार्च 28, 2011 @ 15:22:48

    bachpan me ye geet har gali mohllo me suna karta tha

    प्रतिक्रिया

  5. alok kumar satpute
    अप्रैल 23, 2011 @ 21:37:28

    Hum jab chhote the to akashvani Raipur ke sur singar karyakram me ye geet suna karte the.Isko sunne par apna bachpan yad aa gaya
    S. L. Yadav and Alok Kumar Satpute

    प्रतिक्रिया

  6. Mohan sahu
    जुलाई 26, 2011 @ 15:55:50

    abbad sughar lagis aap man k gana………….

    प्रतिक्रिया

  7. Roopesh Kumar Sahu
    नवम्बर 06, 2011 @ 23:39:22

    superb song sung by kavita vasnik……..

    प्रतिक्रिया

  8. Heshanker sahu
    दिसम्बर 01, 2011 @ 15:37:00

    Chhattisgarhi junna gana mor man la bha lethe

    प्रतिक्रिया

  9. rajeshwar
    दिसम्बर 03, 2011 @ 22:02:22

    bhai rajesh ji aapke is collection ko sun k man ekdam gadgad ho gaya hum sab chhatisgarhiya logo ko apni is sanskriti ko bacahana jaruri hai

    प्रतिक्रिया

  10. सनत साहू
    फरवरी 06, 2012 @ 18:49:46

    चंद्राकर जी आप मन से निवेदन हे एमा नवा गीत घलव डाल देहव।

    प्रतिक्रिया

  11. bhupendra
    मार्च 21, 2012 @ 11:02:47

    chattishgarhi gana mola pasand he

    प्रतिक्रिया

  12. shravan kumar diwan
    मार्च 24, 2012 @ 19:03:10

    mehar shadi wala geet sune bar chahat hawaw
    ka mola shadi wala geet sune bar milhi ?

    प्रतिक्रिया

  13. shravan kumar diwan
    मार्च 24, 2012 @ 19:04:32

    mehar sadi wala geet sunhu kahat hawaw ka sadi wala geet sune bar milhi

    प्रतिक्रिया

  14. lochan prasad dansena
    अप्रैल 15, 2012 @ 17:52:40

    best song

    प्रतिक्रिया

  15. sheetal
    अप्रैल 26, 2012 @ 16:56:22

    aacha lagisss…ji…

    प्रतिक्रिया

  16. JEETU DHiWAR
    जून 24, 2012 @ 17:12:30

    bahut badiya prayas he chattishgarhi geet ,sangit boli bhasha bar ye prayas ke liye bahut bahut dhanyawad……..

    प्रतिक्रिया

  17. sameer
    सितम्बर 06, 2012 @ 15:10:48

    good song

    प्रतिक्रिया

  18. manohar das mersa
    जून 28, 2013 @ 19:23:11

    बचपन इस गीत को बहुत सुना
    manohar

    प्रतिक्रिया

  19. Krishna sahu
    जुलाई 15, 2013 @ 15:51:29

    Ye gana la mai hr bahut din le khojt rahew .aaj ye gana la sun ke bahut khusi lagis.aap ke bahut2 dhaynwad

    प्रतिक्रिया

  20. Dr.c.b.s. banjare
    जुलाई 16, 2013 @ 00:09:14

    aap mn k ye gaana mola jyada sughhar lagis

    प्रतिक्रिया

  21. Girdhar Deshmukh
    जुलाई 21, 2013 @ 14:34:22

    man karthe din bhar sunte rahaw.

    प्रतिक्रिया

  22. Rewatiraman Tarak
    दिसम्बर 16, 2013 @ 10:09:40

    Fir se bachpan yad agaya

    प्रतिक्रिया

  23. shraddhanshu shekhar
    फरवरी 14, 2014 @ 09:48:26

    Nice. Main ye song bachpan me suna karta tha, kuch log gaon me gaate the.. Acha lagta tha.. Mujhe chhattisgadhi language samajh nahi aati magar sun na acha lagta hai.. Dhanyawad🙂

    प्रतिक्रिया

  24. khilawan yadav gram- chingariya
    सितम्बर 06, 2014 @ 23:42:14

    ye geet ha adbad babe lagis he. aisan geet ab nada ge lagthe fer aisan geet nai bane lagthe. jema maya prem chupe rahay
    ye geet la sun ke man gadgad hoge.

    jai johar

    प्रतिक्रिया

  25. dhaleshwar
    फरवरी 28, 2015 @ 02:01:30

    Pls send more songs

    प्रतिक्रिया

  26. teman kumar sahu
    दिसम्बर 12, 2015 @ 08:51:12

    Bahut badiya gana au music to abbad jodhdar tab to hamar pura bharat wasi man kahithe chhattisgarhiya sab le badiya=D>

    प्रतिक्रिया

  27. pravin sahu
    दिसम्बर 16, 2015 @ 02:00:03

    my favorite song cg song maya nahi mile re mangni

    प्रतिक्रिया

  28. siddharth tripathy
    जनवरी 14, 2016 @ 07:40:09

    was searching this song since long – wonderful

    प्रतिक्रिया

  29. Shraddhanshu Shekhar
    जनवरी 30, 2016 @ 11:23:41

    बहुत बहुत धन्यवाद । ये बचपन से मेरा पसंदीदा गीत रहा है जब जसवंत भाई ये गीत गाया करते थे ।
    क्या आप ‘पानी रोको भाई रे’ गीत भी उपलब्ध करा सकते हैं जो बालाघाट के एफ एम पे बजाया जाता था? अगर संभव हो तो लिंक भी दीजिए ।
    धन्यवाद ।

    प्रतिक्रिया

  30. Anil Sharma
    जून 25, 2016 @ 09:53:42

    ek dum mast gana sunke maja aage

    प्रतिक्रिया

  31. Devendra Ramchand Chitriv
    नवम्बर 16, 2016 @ 12:01:33

    💚💙💛💜💜💛💚💙💟

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: