बारी के सुन लेहु गाना … Bari Ke Sun Lehu Gana

ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना

ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना

हां~~~
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना

तुमा~ बिचारी परजाता सहि~
वो ह छानही में जा के उंडत हे~~
तुमा~ बिचारी परजाता सहि~
वो ह छानही में जा के उंडत हे~~
एती ओती ओलंड घोलंड के~~
उतरे के बेरा जोहत हे
चना दार के निचट दीवाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
चना दार के निचट दीवाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
हे चना दार के निचट दीवाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
बारी के सुन लेहु गाना

पताल फरे लाल लाल
ओकर गुण हावय भारी~
पताल फरे लाल लाल
ओकर गुण हावय भारी~
कांही साग तैं~
रांध ले सबके~
संग बनथे संगवारी
वो मिठाथे सही मनमाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
वो मिठाथे सही मनमाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
भैया बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना

ढेकरा ऊपर सेमी खेखसी
पड़ोरा नार ह चढ़े हे~~
ढेकरा ऊपर सेमी खेखसी
पड़ोरा नार ह चढ़े हे~~
झूलत हावय~
झूलना झूले कस~
बहुंते सबो फरे हे
तोड़ के सगा पहुना खवाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
तोड़ के सगा पहुना खवाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
ए तोड़ के सगा पहुना खवाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
बारी के सुन लेहु गाना
हां ए दे बारी के सुन लेहु गाना गा
बारी के सुन लेहु गाना
हां ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
बारी के सुन लेहु गाना

बारो महीना छोड़य नहीं
फरे हावय वो मुनगा~
बारो महीना छोड़य नहीं
फरे हावय वो मुनगा~
लम्हरी लम्हरी
फरथे रे संगी~
एकर हे बढ़े गुण गा
ए छेवारी में दवाई के समाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
ए छेवारी में दवाई के समाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
ए छेवारी में दवई के समाना हो
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना हो
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना

कटही पेड़ फेर सुंघर दिखथे
फरे गोलएंदा भाटा जी~
कटही पेड़ फेर सुंघर दिखथे
फरे गोलएंदा भाटा जी~
ठार मिरचा
मही के संग मन
खाए के होथे उचाटा जी
अमसुरहा पेट भर खाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
अमसुरहा पेट भर खाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
संगी बारी के सुन लेहु गाना
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना
बारी के सुन लेहु~~~~~~
हु~हु~हु~हु~हु~हु~~~
गाना जी~~~~~~~~~~
गाना गाना गाना गाना
बारी के सुन लेहु गाना
भईया गाना गा
ए मोर दीवाना
दीवाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना जी
ए दे बारी के सुन लेहु गाना


गायन शैली : ?
गीतकार : पंचराम मिर्झा
रचना के वर्ष : 1990
संगीतकार : पंचराम मिर्झा
गायन : पंचराम मिर्झा, कुलवंतीन मिर्झा अउ साथी
एल्बम : पंचराम मिर्झा के गुरूतुर करौंदा – टी सीरीज
संस्‍था/लोककला मंच : ?

पंचराम मिर्झा के गुरुतुर करौंदा : एल्बम के अन्य गीत
गाँव बस्ती हे चारी करईया … Gaon Basti He Chari Karaiya (11 नवंबर 2010)
तीर में बलाले मोला … Teer Me Balale Mola (09 नवंबर 2010)

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

 

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

1 टिप्पणी (+add yours?)

  1. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    फरवरी 03, 2015 @ 15:11:57

    Bari bakhri me faray sabo saag ke bad sughghar varnan he.Panchram Mirza au Kulwantin bai dhanyawad ke patra he.

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: