उड़ी उड़ी सुवा ना … Udi Udi Suwa Na

उड़ी उड़ी सुवा ना

हां~ उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
(उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~)

लाली चनारिया मोहनी मुरतिया
देखत मन ला मोहे वो~
उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
(उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~)

हे~~ गाँवे शहर मा तोर होथे बड़ाई वो, जा के डोंगरगढ़ मा बसे बम्लाई
(गाँवे शहर मा तोर होथे बड़ाई वो, जा के डोंगरगढ़ मा बसे बम्लाई)

दूसर रूपे मा शारदा कहाये वो, जाके शहर तैं हा मईहर बसाये
(दूसर रूपे मा शारदा कहाये वो, जाके शहर तैं हा मईहर बसाये)

हां~ माथे मा टोकिया, सोन के अंगूठीया, दसों अंगुरिया मा सोहे वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
(उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~)

हे~~ चंद्रहासिनी चंदरपुर मा बिराजे वो, हे महामाया रतनपुर मा साजे
(चंद्रहासिनी चंदरपुर मा बिराजे वो, हे महामाया रतनपुर मा साजे)

हां~ डिंडेश्वरी तैं मल्हार मा कहाये वो, जा के जिंहा दाई सोना बरसाये
(डिंडेश्वरी तैं मल्हार मा कहाये वो, जा के जिंहा दाई सोना बरसाये)

हां~ नवदिन नवरात जोत, बरत हे दिया ना, मईया के झूलना झूले वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
(उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~)

लाली चनारिया मोहनी मुरतिया, देखत मन ला मोहे वो~
उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले वो
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
(हाय उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~
उड़ी उड़ी सुवा ना, का बोली बोले दाई
उड़ी उड़ी सुवा ना, तोर बोली बोले~)


गायन शैली : ?
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायिका : अलका चन्द्राकर
एल्बम : माँ के झूले झूलना (सुंदरानी फिल्म्स – विडियो वर्ल्ड)
संस्‍था/लोककला मंच : ?

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

 

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

37 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. नवीन
    अक्टूबर 13, 2010 @ 11:09:27

    बहुत सुंदर नवरात्र गीत मन प्रसन्न हो गया
    धन्यवाद

    प्रतिक्रिया

  2. cg swar
    अक्टूबर 13, 2010 @ 14:09:13

    जय जोहार, बने लगत हे तोर मन के ए परयास. नवरात मा देवी के गीत….वा…मजा आगे. बधाई और शुभकामनाएं.

    प्रतिक्रिया

  3. deepak
    अक्टूबर 14, 2010 @ 07:04:15

    bahut sundar havesabbo gana man, maza aage

    प्रतिक्रिया

  4. pravin
    फरवरी 20, 2011 @ 21:26:46

    alkachandrakar hits suwa git

    प्रतिक्रिया

  5. aeman sahu
    मार्च 15, 2011 @ 15:20:14

    alkachandrakar ke git achha lagis he

    प्रतिक्रिया

  6. SHIV RAJ
    मार्च 15, 2011 @ 17:22:33

    good thans mai bhi yahi chahta tha ki koi chhttisgarh ka name roshan kare thans c g jai

    प्रतिक्रिया

  7. avinash vijay
    मार्च 26, 2011 @ 21:25:29

    bhai ji adbhut hai aapka prayash kabiletarif hai……………..

    प्रतिक्रिया

  8. gorkha madhuker
    अप्रैल 07, 2011 @ 17:30:42

    ye geet bahut achha he aisne geet au pes karaw

    प्रतिक्रिया

  9. deepak pandey
    जून 19, 2011 @ 12:57:42

    best song i am never heard

    प्रतिक्रिया

  10. Dr. Vinod Tandan
    जुलाई 20, 2011 @ 14:20:38

    bahut badiya dhun he isne au geet sunawat rahaw dhnyawad

    प्रतिक्रिया

  11. aman manikpuri anjor das
    अगस्त 04, 2011 @ 16:45:38

    का पुरबल के भाग जागे हो रे सुवना ,
    तिरया जनम ऐसे आगे ..
    छोर के छ्न्दना ऐसे छूटगे माया के बंधना बंधागे ,
    मंगनी मया अतेक चिन्हौर मइके पराया लागे,
    ननपन भूले झूले झुलना माया के छैहा,
    ससुरे के दिन भुलागे ,
    सिया बिहा छूटगे तहले,
    खटिया गोरसी नोहरागे.
    का पुरबल के भाग जागे हो रे सुवना ,
    तिरया जनम ऐसे आगे ..
    ऐसे के बेरिया कोंन पुछैया,तिरया जनम तिरयागे,
    ताना ठोसरा म जिनगी खपगे रोवत गावत पहागे,,
    का पुरबल के भाग जागे हो रे सुवना ,
    तिरया जनम ऐसे आगे ………..

    गीतकार ;-
    एमन दास मानिकपुरी
    औंरी भिलाई-३ दुर्ग (छ.ग.)

    प्रतिक्रिया

  12. BALRAM SONWANI
    अक्टूबर 29, 2011 @ 23:41:43

    BALRAM SONWANI-9907758042

    MUJHE IS TYPE KI WEB SITE KI KAB SE TALASH THAA THANKSH WORDPREES.COM

    प्रतिक्रिया

  13. kishor sahu
    फरवरी 10, 2012 @ 23:58:32

    bahut accha he ji

    प्रतिक्रिया

  14. pravesh yadav
    फरवरी 24, 2012 @ 23:06:24

    i love chattisghar.

    प्रतिक्रिया

  15. sukhdev yadav
    फरवरी 27, 2012 @ 19:08:21

    kripya chhattisgarhi holi geet post kare

    प्रतिक्रिया

  16. prasad yadav
    मई 09, 2012 @ 17:33:44

    anha laga y side ka najara phlibar net se ki c,g song ko downlode kar raha hoooooooooooooooooooooooooo

    प्रतिक्रिया

  17. DIGENDRA
    सितम्बर 01, 2012 @ 22:50:55

    AMDG

    प्रतिक्रिया

  18. anand sinha
    सितम्बर 11, 2012 @ 08:24:45

    nice

    प्रतिक्रिया

  19. PAWANSAHU
    सितम्बर 21, 2012 @ 13:13:46

    bahut sundar hi gana hai thanks…….

    प्रतिक्रिया

  20. deepak
    अक्टूबर 23, 2012 @ 20:07:31

    bahut khub…………..

    प्रतिक्रिया

  21. deepak
    अक्टूबर 23, 2012 @ 20:08:14

    monu kashyap janjgir

    प्रतिक्रिया

  22. prem chandrakar
    नवम्बर 21, 2012 @ 15:16:00

    raju bhai bahut deen bad ye gana la sune bahut achha lagis… thank

    प्रतिक्रिया

  23. neelkanth sahu
    जनवरी 30, 2013 @ 21:05:46

    nawratri ke pawan parab me jasgit sunke man ha pavitra ho jathe
    neelkanth khapri

    प्रतिक्रिया

  24. hari
    मार्च 22, 2013 @ 15:33:15

    yogendra kumar hirapur tatibandh raipur hari nirmalkar good song

    प्रतिक्रिया

  25. hari
    मार्च 22, 2013 @ 15:35:12

    good song 2013 mobile no 9425527801

    प्रतिक्रिया

  26. shashi kumar diwan
    जून 14, 2013 @ 14:25:31

    मोला ये गाना ह अब्बड़ सुघ्घर लागिस मोर हिसाब ले ये जरुरी नइये कि ये गाना ल हमन नवरात्रि म सुनन ये गाना ल तो हमन संझा अऊ बिहिना घलोक भगवान के नाम लेके सुन सकथन!! छत्तीसगढ़ के 36 मया,चारो कोती बगरे हे ! इही मया म छत्तीसगढ़ के, मनखे मन संघरे हे …कोटि कोटि धन्यवाद भईया ल

    प्रतिक्रिया

  27. BADAL CHOUHAN
    अगस्त 24, 2014 @ 12:31:30

    Mein kaa batao aap man la dukalu yadav ji ke jab jash geet suntho tho maza aa jathe kho jatho

    प्रतिक्रिया

  28. BADAL CHOUHAN
    अगस्त 24, 2014 @ 12:35:23

    Aap sab jhan la dhanywaad

    प्रतिक्रिया

  29. Abhishek jhaira
    दिसम्बर 11, 2014 @ 13:59:06

    बहुत सुंदर नवरात्र गीत मन प्रसन्न हो गया i like this song it is my favret song

    प्रतिक्रिया

  30. guha ram ratre
    जनवरी 15, 2015 @ 14:41:06

    alma chandrakar me gaana achha lagise

    प्रतिक्रिया

  31. abhishek Jharia
    जनवरी 23, 2015 @ 17:12:58

    मोला ये गाना ह अब्बड़ सुघ्घर लागिस मोर हिसाब ले ये जरुरी नइये कि ये गाना ल हमन नवरात्रि म सुनन ये गाना ल तो हमन संझा अऊ बिहिना घलोक भगवान के नाम लेके सुन सकथन!! छत्तीसगढ़ के 36 मया,चारो कोती बगरे हे ! इही मया म छत्तीसगढ़ के, मनखे मन संघरे हे …कोटि कोटि धन्यवाद भईया ल

    प्रतिक्रिया

  32. तारकेश्वर साहू
    जून 18, 2015 @ 18:50:16

    आप मन गाना पोस्ट के तरीका हे ब्लॉग में वो बहूत ही प्रसन्निय हे अइस ब्लॉग तो मोर जानती में कोनो नई बनाये हे फेर ऐके बात हे संगी गाना ला पढ़ लेथन अऊ सुन भी लेथन पर सुने के बाद डाउनलोड करे के मन करथे लेकिन ऑप्शन नई दिखे ओकर बर आप मन ध्यान दुहूँ।।।
    अऊ ओला छोड़ के आप मन के ब्लॉग हा मन ला छु लेथे।।।
    बहूत बढ़िया अऊ बहूत बहूत बधाई आप मन ला
    ।।। जय जोहार जय छत्तीशगढ़ ।।।

    प्रतिक्रिया

  33. durga jaiswal
    जनवरी 19, 2016 @ 18:37:06

    really i like this can u suggest me how to download this audio song . plz……

    प्रतिक्रिया

  34. Rajaram
    अप्रैल 02, 2016 @ 20:33:45

    मोला सब्बो गीत हा बहुत अच्छा लागिस धन्यवाद.

    प्रतिक्रिया

  35. praveen
    सितम्बर 05, 2016 @ 08:24:07

    mahua jhare geet la lyrics dhoondhat hon

    प्रतिक्रिया

  36. TUSHAR CHURENDRA
    सितम्बर 25, 2016 @ 10:04:40

    BIKAT MAST GANA ATI SUGHGHAR……………………………

    प्रतिक्रिया

  37. kishor sahu
    नवम्बर 20, 2016 @ 19:00:16

    Gana downlod kaise hoga

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: