मावलिया जस गीत … Mawalia Jas Geet

मावलिया

ये हो कौने दिन तोरे दुर्गा~
अन मन जन मन हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो कौने दिन लिए अवतार, महामाई मावलिया
(ये हो कौने दिन लिए अवतार, महामोर मावलिया)

ये हो चैत महीना तोरे
अन मन जन मन हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो आठे के लिए अवतार, महामाई मावलिया
(ये हो आठे के लिए अवतार, महामोर मावलिया)

ये हो धरती में जन्मे एक, महिषासुर दानव हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो देवता भये हे उदास, महामाई मावलिया
(ये हो देवता भये हे उदास, महामोर मावलिया)

ये हो ब्रम्हा जी भागे, बरमपुर हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो शिवजी भागे हे कैलाश, महामाई मावलिया
(ये हो शिवजी भागे हे कैलाश, महामोर मावलिया)

ये हो नंदी में चढ़के, महादेव भागे हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो गरुड़ में चढ़के गोपाल, महामाई मावलिया
(ये हो गरुड़ में चढ़के गोपाल, महामोर मावलिया)

ये हो सब देवतन मिल, एकमत होगे हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो चले हे भवानी के पास, महामाई मावलिया
(ये हो चले हे भवानी के पास, महामोर मावलिया)

ये हो नींद भरे माता बोले, कोन जगाए हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो का~कर जियरा उबार, महामाई मावलिया
(ये हो का~कर जियरा उबार, महामोर मावलिया)

ये हो नींद भरे माता मोरे, लंगुर जगाये हो~ मोरे~ मावलिया
हो~ मा~वलिया
ये हो हनुमत जियरा उबार, महामाई मावलिया
(ये हो हनुमत जियरा उबार, महामोर मावलिया)

ये हो हनुमत जियरा उबार, महामाई मावलिया
(ये हो हनुमत जियरा उबार, महामोर मावलिया
ये हो हनुमत जियरा उबार, महामोर मावलिया
ये हो हनुमत जियरा उबार, महामोर मावलिया)


गायन शैली : ?
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायक : दुकालू यादव अउ साथी
एल्बम : झुपत झुपत आबे दाई (सुंदरानी फिल्म्स – विडियो वर्ल्ड)
संस्‍था/लोककला मंच : ?

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

 

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

27 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. Ashutosh Mishra
    Oct 15, 2010 @ 22:30:07

    धन्यवाद पंडित जी मजा आ गया । माँ भवानी आपकी मंगल कामनाएं पूर्ण करें , माँ से प्रार्थना है । – आशुतोष मिश्र

    प्रतिक्रिया

  2. Rakesh Singh
    Oct 15, 2010 @ 23:03:16

    This is really good, Thanks for making it available here.

    प्रतिक्रिया

  3. pravin singh rajput
    Oct 16, 2010 @ 13:02:39

    मज़ा आगे संगवारी इसने आप मन हा हमर chattishgarhi भाषा ला आगू बढ़ाओ औ हमर मन के मान बढ़ाओ, आप मन ला अब्बड़ बधाई सहित अब अपन वाणी ला में हा विराम दे थो

    प्रतिक्रिया

  4. kabir
    Jul 14, 2011 @ 19:56:54

    bhai tor gana ha to mast lagis au mor dil bar ge

    प्रतिक्रिया

  5. LAKSH
    Sep 07, 2011 @ 21:06:48

    download kaise hohi ga ,mola jaldi batabe. JAI MATA DI

    प्रतिक्रिया

  6. virendra gopal
    Sep 10, 2011 @ 13:04:10

    very good like

    प्रतिक्रिया

  7. virendra gopal
    Sep 10, 2011 @ 13:05:02

    very good i like it

    प्रतिक्रिया

  8. umesh
    Sep 15, 2011 @ 16:46:24

    bahut sundar bhajan man prasan ho gis

    प्रतिक्रिया

  9. Devendra gorle
    Oct 03, 2011 @ 14:05:49

    Jai Mata Di sangwari. this is very nice song . thanks for lok kala mucnh.

    nice part of tridev problem this song.

    प्रतिक्रिया

  10. virendra kumar sahu
    Mar 07, 2012 @ 17:13:47

    WAKAI IS WEB SITE KA JAWAB NAHI HAI. MAI IS WEBSITE KE THINK TANK KO HARDHIK BADHAI OR HOLI KI SHUBHKAMNAYE PRESHI KARATA HOON.

    प्रतिक्रिया

  11. pradeep nirmal
    Sep 15, 2012 @ 12:29:21

    dhannyawad sir ji

    प्रतिक्रिया

  12. MANOJ KUMAR
    Oct 10, 2012 @ 17:38:51

    BANE LAGIS MAWALIYA JAS GEET HA AU AISNE GANA SUNAT REHE KAR BHAIYA

    प्रतिक्रिया

  13. MANOJ KUMAR
    Oct 10, 2012 @ 17:41:00

    DUKALU RAM YADAV KE NAYA GANA SUNANA

    प्रतिक्रिया

  14. anil
    Oct 14, 2012 @ 06:01:29

    bahoot achha geet have ..aisne collection au badhavo.jay johar!

    प्रतिक्रिया

  15. Sanjay Soni
    Oct 16, 2012 @ 12:57:47

    Mai is gane ka anant bar sunna chahunga, is gane mai shabd bahut hi acche compose kiye gaye hai, thanks

    प्रतिक्रिया

  16. karan kumar nishad
    Feb 04, 2013 @ 05:33:18

    jas geet

    प्रतिक्रिया

  17. Ravi
    Feb 12, 2013 @ 00:30:25

    My most favoirate song & i like this song so much keep it up dukalu sir yr all song was ameging & it will tuch my soul every time

    प्रतिक्रिया

  18. Trilochan sahu
    Apr 11, 2013 @ 17:04:17

    दुकालू यादव छ0ग0 के लिये शान है उनको मै बहुत बहुत धन्‍यावाद देता हॅू

    प्रतिक्रिया

  19. mannu barik
    May 19, 2013 @ 01:52:50

    very very good

    प्रतिक्रिया

  20. Rajesh Kumar Patel
    Sep 22, 2013 @ 09:13:47

    E gana ha bahut achchha au sadabahar he, Dhanyawad..

    प्रतिक्रिया

  21. gopi nayak
    Oct 07, 2013 @ 11:28:19

    aap ka kin labjo me sukriyada karu i am bast dukalu yadav

    प्रतिक्रिया

  22. shobha chakradhari
    Oct 23, 2013 @ 19:16:07

    bahut badiya hai ye jasgeet aise hi geet banate rahe…

    प्रतिक्रिया

  23. Nimmuchakradhari
    Oct 23, 2013 @ 19:22:10

    mata rani ki jyot jalti rahe, sabki manokamna puri karti rahe, aise hi mata rani ki mahima ka gungan karte rahe sada bhakti bhav bharde jai mata di

    प्रतिक्रिया

  24. seema sahu
    Oct 24, 2013 @ 06:59:35

    mata rani sabke dilo me sadbhavna bhare yahi kamna karti hoo…@ jai mata di

    प्रतिक्रिया

  25. abhi yadav
    Sep 09, 2014 @ 21:48:16

    Very nice jasgit

    प्रतिक्रिया

  26. Vimas kumar
    Sep 26, 2014 @ 22:35:43

    Ek badhiya yar

    प्रतिक्रिया

  27. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    Jan 30, 2015 @ 14:28:37

    mata ke tasveer bad sughghar he.

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 551 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 551 other followers

%d bloggers like this: