चिरई बोले राती … Chirae Bole Rati

चिरई बोले राती~~
चिरई बोले राती~~~
चिरई बोले राती
अउ नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
अउ नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती

ए लइका रोवय चिलील चालल रात के पहाती
लइका रोवय चिलील चालल रात के पहाती
ए लइका रोवय चिलील चालल रात के पहाती
लइका रोवय चिलील चालल रात के पहाती
ए तोर मोर भेंट होगे नरवा के नहाती
अउ नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती

ए टुरी खेले फुगड़ी टुरा खेले भौंरा बांटी
टुरी खेले फुगड़ी टुरा खेले भौंरा बांटी
ए टुरी खेले फुगड़ी टुरा खेले भौंरा बांटी
टुरी खेले फुगड़ी टुरा खेले भौंरा बांटी
हो~ कान में खोंचे हावय अतर गा ममहाती
अउ नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती

ए घुमे ल जाबो कहूं डाहर एके हे मोहाटी
घुमे ल जाबो कहूं डाहर एके हे मोहाटी
ए घुमे ल जाबो कहूं डाहर एके हे मोहाटी
घुमे ल जाबो कहूं डाहर एके हे मोहाटी
ए कोनों हम ला देखे झन कहुंचो आती जाती
अउ नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
ए नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती
नोनी सुरजतिया चिरई बोले राती

ल~ल~लाला~

 


गायन शैली : ?
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायन : बैतल राम साहु, सुशीला ठाकुर
संस्‍था/लोककला मंच : ?

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

 

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

8 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. राहुल सिंह
    अप्रैल 24, 2011 @ 09:39:13

    सुंदर गीत. घुमेल को घुमे ल और हमला को हम ला लिखा जाना बेहतर होगा.

    प्रतिक्रिया

  2. hiralalkashyap
    अप्रैल 24, 2011 @ 12:50:17

    ati sunder geet haway

    प्रतिक्रिया

  3. Siv Prasad Sajag
    अप्रैल 27, 2011 @ 22:31:46

    चिरई बोले रति ये गाना ला सुन के मोर परा के जम्मो लिका मन नाचे लगीं महू हा उनकर संग माँ laeka बनगेव sachchi अड़बड़ मजा आइस.

    प्रतिक्रिया

  4. Santoshmaravi viLLage sanduka pots Newarwahi tahsiL Lanji dic. BaLaghat.madhyapradesh.
    दिसम्बर 16, 2012 @ 13:32:46

    Chhattisgadi song is very very good songs. I Laik this song

    प्रतिक्रिया

  5. gorelal shrivas
    मार्च 13, 2013 @ 14:31:14

    Chattisgharhi geet sangit sunaiya sbo sangwari man la mor ti ke jay johar

    प्रतिक्रिया

  6. Devendra sahu
    जून 30, 2013 @ 08:53:23

    nice song and his lines are awsomes

    प्रतिक्रिया

  7. खिलेश कुमार साहू
    अप्रैल 12, 2016 @ 21:42:45

    गीत सुन बड निक लागिस

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: