पहिरव दाई … Pahirav Dai

मउर सौंपना

मउर/मौर माने मुकुट। मुकुट जे होथे राजा-महाराजा के सिंगार अउ जिम्मेदारी के निशानी। मउर पहिन के दुल्हा ह राजा बन जथे, तेकरे सेती ओला दुल्हा राजा घलो कहे जाथे। मउर सौंपे के नेंग ल, वर ल अवईया जिनगी बर आसिस अउ जिम्मेदारी दे के निशानी कहे जा सकथे। ये नेंग म बरात निकासी के पहिली वर ल सजाये संवारे के बाद पूजा घर म सुवासा ह मउर बांध-थे। अंगना म चौंक पूर के पीढ़ा रखके, वर ल ओकर ऊपर खड़ा करके या कुर्सी में बिठा के सबले आघू माँ ओकर पाछू काकी, मामी, बड़े बहिनी व सुवासिन समेत सात महिला मन मउर सौंप थे।

आओ सुनथन मउर सउंपे के बेरा गाये जाने वाला गीत

पहिरव दाई~
पहिरव दाई हो सोन रंग कपड़ा
हो सोन रंग कपड़ा
सौंपव दाई मोर माथे के मउर~

मउर सोपत ले~
मउर सोपत ले दाई बइहा झन डोलय
दाई बइहा झन डोलय
डोलय दाई मोर माथे के मउर~

तोरे वो कोखन में~
तोरे वो कोखन में दाई बेटा वो बने हंव
दाई बेटा वो बने हंव
हंसी हंसी दाई मोर सौंपव वो मउर~

दस वो अंगुरिया~
दस वो अंगुरिया मोर माथे वो मड़इले
दाई माथे वो मड़इले
धरमिन दाई मोर सौंपव वो मउर~
धरमिन दाई मोर सौंपव वो मउर~
धरमिन दाई मोर सौंपव वो मउर~
धरमिन दाई मोर सौंपव वो मउर~


गायन शैली : ?
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायन : ममता चंद्राकर
संस्‍था/लोककला मंच : ?

ममता चंद्राकर
ममता चंद्राकर

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

4 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. Harihar Vaishnav
    जून 02, 2011 @ 09:26:28

    Geet sun kar aanand aa gayaa. Sambandhit chitra ke saath to prastuti aur bhii jeewant ho uthatii hai. Aabhaar.

    प्रतिक्रिया

  2. dhannu chhattisgariya
    अगस्त 01, 2011 @ 21:12:24

    wah ji gana sun k maza aa ge,
    kai din le ae gana le khojat rahev…
    dhanyawad

    प्रतिक्रिया

  3. tameshwar Sahu Anjora
    अगस्त 18, 2013 @ 16:23:13

    Mamta didi k awaz sune bar me ha tarsat rahitho . Gaana uplabdha karay bar bahut 2 dhanyawad

    प्रतिक्रिया

  4. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    जनवरी 30, 2015 @ 13:36:19

    Bihaw sanskar hamar chhattisgarh ke bahut anmol he.

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: