अरझगे हे भउजी … Arajh-ge He Bhauji

अरझगे हे भउजी

ऐ भउजी~
(काये~)
एक बात काहव
(का बात ए)

रूप में फंस के मरिस पतिंगा, रस में अरझगे भौंरा हा
(अच्छा)
गंध म मछरी धुन मा हिरना, भईया बर सब्बो संघरा
(हट)

हाय अरझगे हे भउजी, तोर मया म भईया अरझगे हे
हाय अरझगे हे का या, तोर खोपा म गोंदा अरझगे हे
हाय अरझगे हे भउजी, तोर मया म भईया अरझगे हे
हाय अरझगे हे का या, तोर खोपा म गोंदा अरझगे हे

खेते म जाथंव, बता के जाथे ए~ ए~
खेते म जाथंव, बता के जाथे
बीड़ी सिपचाहूँ कहिके लहुट आथे, हाय अरझगे हे
हाय अरझगे हे का या, तोर मया म भईया अरझगे हे
हाय अरझगे हे भउजी, तोर मया म भईया अरझगे हे

भउजी हे धीरन, भईया हे लुठुवा आहा आहा
भउजी हे धीरन, भईया हे लुठुवा
भउजी हाबे अधरतिहा भईया हे सुकुवा, हाय अरझगे हे
हाय अरझगे हे का या, तोर खोपा म गोंदा अरझगे हे
हाय अरझगे हे भउजी, तोर मया म भईया अरझगे हे

भईया के सुंता, भउजी के सुतीयां आहा हो हो
भईया के सुंता, भउजी के सुतीयां
भउजी हाबे मोर अठन्नी भईया हे रुपिया, हाय अरझगे हे
हाय अरझगे हे का या, तोर खोपा म गोंदा अरझगे हे
हाय अरझगे हे भउजी, तोर मया म भईया अरझगे हे
हाय अरझगे हे का या, तोर खोपा म गोंदा अरझगे हे
हाय अरझगे हे भउजी, तोर मया म भईया अरझगे हे


गायन शैली : ?
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायन : , बैतल राम साहु अउ साथी
संस्‍था/लोककला मंच : ?

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

14 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. राहुल सिंह
    जुलाई 06, 2011 @ 08:19:34

    सुन के मन अइ कर, अइ मेरा, अइ लंग अरझगे.

    प्रतिक्रिया

  2. Sanjeeva Tiwari संजीव तिवारी
    जुलाई 06, 2011 @ 08:31:05

    राहुल भईया संग हमरो अरझे हे.

    प्रतिक्रिया

  3. Harihar Vaishnav
    जुलाई 06, 2011 @ 22:05:51

    Banhute badhiyaa geet he bhaaii. Rahul Singh jii au Sanjeeva Tiwari jii ke man arajh ge ta ham kon hothan bhaii jekar man ha nai arjhahii? Ye ha kono lok geet (paaramparik) aay te kakharo likhe, ehu la bataatew ta bane hotis.

    प्रतिक्रिया

  4. Gobinda satnami+dulal kashriya
    जुलाई 08, 2011 @ 14:16:46

    मनखुस होगे आपमनला बहुत बहुत धन्यबाद कोनो अच्छा छ्त्तीसगढी होलि के गित भेजउ ना हमन आसामके रहने वाल आएन हमनला आसाम मा हमार सगके गीत बहुत कम मीलथे अब तो हीया से लेल पाके मई बहुत खुस हाउ
    जय सतनाम

    प्रतिक्रिया

  5. Harihar Vaishnav
    जुलाई 08, 2011 @ 21:18:38

    Gobinda jii au Dulal jii ke baat se mahu sahmat hon bhaaii. Kauno faag geet au Mataa sevaa ke geet man la ghalo sunaatew ta badaa majaa aatis. Aaj cha main ha e goth la surataa karat rahenw.

    प्रतिक्रिया

  6. dhannu chhattisgariya
    अगस्त 15, 2011 @ 14:44:55

    bane lagish bhaiya bhauji k maya ha,
    par hamla aarjhe k dar naiye, ham to nichchat kunwara han

    प्रतिक्रिया

  7. ravi raj markam nagri dhamtari cg
    मार्च 06, 2013 @ 17:10:14

    cg song best song

    प्रतिक्रिया

  8. manohar das mersa
    जुलाई 14, 2013 @ 14:56:03

    achha kagis

    प्रतिक्रिया

  9. pravesh singh thakur
    जून 28, 2014 @ 17:57:17

    mor bhauji khush hogeji.

    प्रतिक्रिया

  10. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    दिसम्बर 03, 2014 @ 15:55:36

    Araj ge he bhouji ye gana ma aise lagathe bhouji ha aaj le nava navariha he.

    प्रतिक्रिया

  11. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    जनवरी 30, 2015 @ 13:47:17

    Baital Bhai la ye gana bar ram ram.

    प्रतिक्रिया

  12. hitesh
    मई 02, 2015 @ 11:01:24

    chhattisgarhi ya sable badiya

    प्रतिक्रिया

  13. vivek shukla
    अक्टूबर 20, 2015 @ 16:06:37

    sable badiya

    प्रतिक्रिया

  14. खिलेश साहू
    अप्रैल 15, 2016 @ 21:09:51

    गीत सुन के बढिया लागीस

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: