जा संदेस ले जा … Ja Sandes Le Ja

जा संदेस ले जा रे सुआ-ना

जा संदेस ले जा
जा संदेस ले जा रे सुआ-ना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
जा संदेस ले जा रे सुआ-ना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना

हरियर रंग के लुगरा पहिरे, चिन्ह लेबे-ना
पांच लर के करधन पहिरे, गिन लेबे-ना
हरियर रंग के लुगरा पहिरे, चिन्ह लेबे-ना
पांच लर के करधन पहिरे, गिन लेबे-ना
पांव में पैजनियाँ~ हो~ओ~ओ~ओ
पांव में पैजनियाँ, हाथ में हे कंगना
हाथ में हे कंगना, हाथ में हे कंगना
जा संदेस ले जा
जा संदेस ले जा रे सुआ-ना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना

मिरगिन कस रेंगना ओकर, नैना कजरेली
हाकी कुंदरू के ओठ, मिश्री घुर बोली
मिरगिन कस रेंगना ओकर, नैना कजरेली
हाकी कुंदरू के ओठ, मिश्री घुर बोली
सबलस हावय ओकर~ हो~ओ~ओ~ओ
सबलस हावय ओकर, झुली-झुली रेंगना
झुली-झुली रेंगना, झुली-झुली रेंगना
जा संदेस ले जा
जा संदेस ले जा रे सुआ-ना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना

हाथ म मेंहदी फबे, माहुर रचे पांव मा
माथ म टिकली सोहे, सेंदुर भरे मांग मा
हाथ म मेंहदी फबे, माहुर रचे पांव मा
माथ म टिकली सोहे, सेंदुर भरे मांग मा
नागिन कस बेनी ओकर~ हो~ओ~ओ~ओ
नागिन कस बेनी ओकर, खोपा में-हे दौना
खोपा में-हे दौना, खोपा में-हे दौना
जा संदेस ले जा
जा संदेस ले जा रे सुआ-ना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
जा संदेस ले जा रे सुआ-ना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना
मोर जोही मइके गे-हे, होगे महीना


गायन शैली : ?
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायन : मिथलेश साहू
संस्‍था/लोककला मंच : ?

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

13 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. Harihar Vaishnav
    सितम्बर 06, 2011 @ 10:37:22

    Bane geet-sangeet.

    प्रतिक्रिया

  2. Ravi
    सितम्बर 09, 2011 @ 17:51:18

    i love cg songs and i like this song very much, chhattisgarh ki mitti ki khushboo

    प्रतिक्रिया

  3. upendradubey
    सितम्बर 09, 2011 @ 21:25:58

    बहुत सुन्दर …..

    प्रतिक्रिया

  4. Pappu
    सितम्बर 20, 2011 @ 12:09:09

    sandes me badhiya gana, apke mya ke gana bhi accha hai vola bhi do na.

    प्रतिक्रिया

  5. manoj
    अक्टूबर 19, 2011 @ 23:09:38

    dil khus hoge ris

    प्रतिक्रिया

  6. मोहन वर्मा जामुल भिलाई
    जनवरी 20, 2012 @ 19:27:11

    विरह के आग में जेनहा हा जलही उही जानही संगी हो

    प्रतिक्रिया

  7. harish kumar sahu
    जुलाई 26, 2012 @ 15:44:55

    achha lagish ji

    प्रतिक्रिया

  8. Mithilesh Lathare
    अगस्त 04, 2012 @ 20:30:46

    aaja na gori ab jhan tarsa

    प्रतिक्रिया

  9. एमन दास मानिकपुरी
    नवम्बर 30, 2012 @ 10:07:07

    भैया जी ये गीत हर तो दाऊ श्री मुरली चंद्राकर जी के रचना हरे वोकर नाम कबर नै लिखेव ,,,,,,,

    प्रतिक्रिया

  10. ganesh sharma
    दिसम्बर 24, 2014 @ 00:41:40

    best song

    प्रतिक्रिया

  11. ganesh sharma
    दिसम्बर 24, 2014 @ 00:44:55

    he nirdaiya re nai to maya lage

    प्रतिक्रिया

  12. ganesh sharma
    दिसम्बर 24, 2014 @ 00:46:28

    mera farmaish jrur pura kre please

    प्रतिक्रिया

  13. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    जनवरी 30, 2015 @ 12:25:31

    photo ke madhyam le pura geet ke sandesh de dehaw dhanyawad.Mithilesh sahu ke awaj ma mati ke khushbu he.

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: