मन के मन मोहनी … Man Ke Man Mohani

मन मोहनी

मन के मन मोहनी~~~~~~~~
मोर दिल के~ तैं जोगनी वो~~~ ठुमुक दान के~~~~~
मन के मन मोहनी, मोर दिल के तैं जोगनी वो, ठुमुक दान के
मन के मन मोहनी, मोर दिल के तैं जोगनी वो, ठुमुक दान के
हाय रे~~~~ ठुमुक दान के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
अड़बड़ तैं गोठियाथस, तोर मन के भरम हे गा, ठुमुक दान के
अड़बड़ तैं गोठियाथस, तोर मन के भरम हे गा, ठुमुक दान के
हाय रे~~~~ ठुमुक दान के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के

खोपा में डारे फुन्दरा~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
खोपा में डारे फुन्दरा~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
खोपा में डारे फुन्दरा, मुड़े में बोहे गगरा
खोपा में डारे फुन्दरा, मुड़े में बोहे गगरा
आँखी मा आज कजरा वो, ठुमुक दान के
आँखी मा आँजे कजरा वो, ठुमुक दान के
कुँआ के पानी आबेच, जि ला दोस बांध के, जि ला दोस बांध के
कुँआ के पानी आबेच, जि ला दोस बांध के, जि ला दोस बांध के
अड़बड़ तैं गोठियाथस, तोर मन के भरम हे गा, ठुमुक दान के
अड़बड़ तैं गोठियाथस, तोर मन के भरम हे गा, ठुमुक दान के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के

मता डरे हंव बैरी~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
मता डरे हंव बैरी~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
मता डरे हंव बैरी, बिछल के मोर पैरी गा
ठारेच रइथे बैरी गा, कुँआ के पार मा
ठारेच रइथे बैरी गा, कुँआ के पार मा
आभा मार के बलाबे गा, सिटी ला पार के, सिटी ला पार के
आभा मार के बलाबे गा, सिटी ला पार के, सिटी ला पार के
मन के मन मोहनी, मोर दिल के तैं जोगनी वो, ठुमुक दान के
मन के मन मोहनी, मोर दिल के तैं जोगनी वो, ठुमुक दान के
हाय रे~~~~ ठुमुक दान के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के

तरसा डरे तैं मोला~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
तरसा डरे तैं मोला~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
तरसा डरे तैं मोला, छुटत हे मोर चोला
देखे बर तोला गा, ठुमुक दान के
देखे बर तोला गा, ठुमुक दान के
आभा मार के बलाबे गा, सिटी ला पार के, सिटी ला पार के
आभा मार के बलाबे गा, सिटी ला पार के, सिटी ला पार के
मन के मन मोहनी, मोर दिल के तैं जोगनी वो, ठुमुक दान के
मन के मन मोहनी, मोर दिल के तैं जोगनी वो, ठुमुक दान के
हाय रे~~~~ ठुमुक दान के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के

टेड़त रइबे टेड़ा~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
टेड़त रइबे टेड़ा~~~~~~~ जिया वो, जिया वो, जिया वो
टेड़त रइबे टेड़ा, अस रांधे के बेरा
टेड़त रइबे टेड़ा, अस रांधे के बेरा
झांकत रइबे मोला वो, कुँआ के पार मा
झांकत रइबे मोला वो, कुँआ के पार मा
आभा मार के बलाहूं, सिटी ला पार के, सिटी ला पार के
आभा मार के बलाहूं, सिटी ला पार के, सिटी ला पार के
अड़बड़ तैं गोठियाथस, तोर मन के भरम हे गा, ठुमुक दान के
अड़बड़ तैं गोठियाथस, तोर मन के भरम हे गा, ठुमुक दान के
हाय रे~~~~ ठुमुक दान के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के
तोर काया पलट गे वो, मया ला डार के, मया ला डार के
पहिरे हव चूड़ी खिनवा गा तोरेच नाव के, तोरेच नाव के …


गायन शैली : ददरिया
गीतकार : ?
रचना के वर्ष : ?
संगीतकार : ?
गायन : शेख हुसैन, निर्मला इंगले
एल्बम : ?
संस्‍था/लोककला मंच : ?

 

यहाँ से आप MP3 डाउनलोड कर सकते हैं

 

गीत सुन के कईसे लागिस बताये बर झन भुलाहु संगी हो …

17 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. राहुल कुमार सिंह
    अक्टूबर 19, 2010 @ 07:36:26

    मन ल मोह लेने वाला गीत.

    प्रतिक्रिया

  2. ASHOK BAJAJ
    अक्टूबर 20, 2010 @ 09:39:37

    शेख हुसैन के गाए ये गीत हा कोनो जमाना मा अब्बड़ धूम मचाये रही से . अइसने ओखर गाए गीत ‘चना के दार गोंदली कडकत हे ………’ लोकप्रिय हे . अच्छा करेव सुरता करा देव . जोहार

    प्रतिक्रिया

  3. R K DIWAN
    दिसम्बर 24, 2010 @ 21:27:23

    shaikh husain ke dadriya anmole hai
    enke sabhi geet priya hai
    ek dadriya ki talash hai
    chakkar maa ghoda nahi chhodva mai tola

    प्रतिक्रिया

  4. D.K. Parihar
    जून 27, 2011 @ 22:12:12

    Hamar Laikondaha bera ke geet sunke manha gag-gad hoge.

    प्रतिक्रिया

  5. BHUWANESWAR PRASAD TIWARI
    जून 30, 2011 @ 00:30:46

    AAJ 20 SAAL BAAD YE GAANA LA SUN KE MORE BACHPANA KE DIN YAAD GEY

    प्रतिक्रिया

  6. shakuntala tarar
    दिसम्बर 03, 2011 @ 10:31:54

    shekh husain ,nirmala ingle ke photu ghalo laga detev thumuk dan ke.

    प्रतिक्रिया

  7. rajendra khandelwal 9424105376
    दिसम्बर 26, 2011 @ 11:44:56

    shekh husain dada ji
    pranam
    aap ki awaj ka main deewana hun ….. bachpan se aap ki awaj sunta aa raha hun….ye gana mujhe bahut pasand hai….
    allah kare aap jald thik ho……..
    meri dua hai rab se …

    प्रतिक्रिया

  8. NETRAM
    अप्रैल 29, 2012 @ 08:58:24

    KURREY THE NEXT THINK

    प्रतिक्रिया

  9. vallabh sharma
    जून 12, 2012 @ 21:37:30

    dadabhai [shekh husain] k ye amar geet havye …….

    प्रतिक्रिया

  10. Rakesh Verma
    दिसम्बर 07, 2012 @ 21:11:32

    bhiya sanjay surila ke song bhi uplod kijiye thanks.

    प्रतिक्रिया

  11. gldaharia
    फरवरी 22, 2013 @ 18:02:17

    ye geet h bahut badhhia he

    प्रतिक्रिया

  12. Sanatan
    फरवरी 27, 2013 @ 10:45:55

    Mola Chhattisgarhi gaana bad suhathe

    प्रतिक्रिया

  13. huleswar
    जून 27, 2014 @ 09:13:52

    tola le jahun udria ke sabbo gana chahiye

    प्रतिक्रिया

  14. Chhaliya Ram Sahani 'ANGRA'
    जनवरी 30, 2015 @ 13:07:46

    Mohani sirif man ke hi hothe .jogani dil ke .alankar jabardast he. Jai Johar

    प्रतिक्रिया

  15. Punnilalyadav
    अगस्त 29, 2015 @ 18:15:07

    Sir ji kya sekhhusain ji ke sabhi gaye geet unke yad me sabhi geet ko sahejna chahraha hun o mere priya gayak the dadariya geet unke awaj me kudrati mel tha jo aaj bhi unke fan raha hun kast ke liye abhari hun ye sangrahan bhej denge to tahedil se aap ko sukriya sir ji

    प्रतिक्रिया

  16. hemant kumar
    मई 06, 2016 @ 22:07:00

    chattisgarhi gane ka jo aanad hai …kya kahne ,,,iska koi jawab hi nahi…

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

हमारी यह पेशकश आपको पसंद आई ?
अपना ईमेल आईडी डालकर इस ब्लॉग की
सदस्यता लें और हमारी हर संगीतमय भेंट
को अपने ईमेल में प्राप्त करें.

Join 610 other followers

हमसे जुड़ें ...
Twitter Google+ Youtube


.

क्रियेटिव कॉमन्स लाइसेंस


सर्वाधिकार सुरक्षित। इस ब्लॉग में प्रकाशित कृतियों का कॉपीराईट लोकगीत-गाथा/लेख से जुड़े गीतकार, संगीतकार, गायक-गायिका आदि उससे जुड़े सभी कलाकारों / लेखकों / अनुवादकों / छायाकारों का है। इस संकलन का कॉपीराईट छत्तीसगढी गीत संगी का है। जिसका अव्यावसायिक उपयोग करना हो तो कलाकारों/लेखकों/अनुवादकों के नाम के साथ ब्लॉग की लिंक का उल्लेख करना अनिवार्य है। इस ब्लॉग से जो भी सामग्री/लेख/गीत-गाथा/संगीत लिया जाये वह अपने मूल स्वरूप में ही रहना चाहिये, उनसे किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ अथवा फ़ेरबदल नहीं किया जा सकेगा। बगैर अनुमति किसी भी सामग्री के व्यावसायिक उपयोग किये जाने पर कानूनी कार्रवाई एवं सार्वजनिक निंदा की जायेगी...

%d bloggers like this: